Cbc test in hindi सीबीसी टेस्ट क्या है

हो सकता है की आप फिलहाल किसी डॉक्टर के पास गए हों और आपके डॉक्टर ने आपके स्वास्थ्य के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए एक पर्चे पर Cbc test लिख कर दे दिया हो यदि आपने पहले कभी इस टेस्ट को नही करवाया है तो आप इसको सुन कर थोडा चकरा गए होगे, आपके दिमाग में कई सवाल कौधें होगे की ये Cbc test क्या है?

आपकी इसी कन्फियूजन को दूर करने के लिए हम आपको इस आर्टिकल में बताएगे की Cbc test in hindi क्या है और Cbc टेस्ट को किन लोगो को करवाना चाहिए तथा cbc टेस्ट के नतीजे आने पर कैसे पता करें की आपकी रीपोर्ट सही आई है या नही

तो चलिए बिल्कुल शुरू से स्टार्ट करते हैं

सीबीसी टेस्ट क्या है ( Cbc test in hindi )

cbc test in hindi
cbc test in hindi

Cbc यानी Complete blood count एक प्रकार की खून की जाँच ( Blood test  ) होती है जिसे हिंदी में पूर्ण रक्त गणना कहते हैं ।

इस जाँच को लिखने के डॉक्टर के कई उद्देश्य हो सकते हैं लेकिन मुख्य तौर पर इसे किसी व्यक्ति की स्वास्थ्य स्थिति को समझने के लिए कराया जाता है Cbc टेस्ट के जरिये मुख्य तौर पर खून में मौजूद कोशिकाओं (  Cells ) के बारे में पता चलता है जिससे किसी व्यक्ति की हैल्थ कंडीशन को समझने में मदद मिलती है ।

इन कोशिकाओं में मुख्य तौर पर तीन प्रकार की रक्त कोशिकाएं ( Blood cells ) आती हैं जो कुछ इस प्रकार है:-

लाल रक्त कोशिकाएं ( Red blood cells ):~ लाल रक्त कोशिकाएं आक्सीजन को शरीर के एक हिस्से से दूसरे हिस्से तक ले जाती हैं और कार्बनडाइ ऑक्साइड को हटाती हैं ।

सीबीसी टेस्ट के द्वारा लाल रक्त कोशिकाओं के हिमोग्लोबिन ( hemoglobin ) और हेमाटोक्रिट ( hematocrit ) के स्तर का पता चलता है ।

यदि खून में हिमोग्लोबिन और हेमाटोक्रिट की कमी हो जाए तो इसका मतलब है की उस व्यक्ति को ऐनेमिया ( anemia ) हो गया है । ऐनेमिया एक ऐसी हालत होती है जिससे पीडित व्यक्ति को आइरन की कमी हो जाती है ।

श्वेत रक्त कोशिका ( White blood cells ):~ श्वेत रक्त कोशिका जिसे शोर्ट में Wbc कहते हैं खून में पाई जाने वाली बहुत ही महत्वपूर्ण कोशिका होती है जो शरीर में प्रवेश करने वाले संक्रमणों से लडती है ।

सीबीसी टेस्ट के द्वारा श्वेत रक्त कोशिकाओं की संख्या और प्रकारों के बारे में पता चलता है । अगर किसी कारण श्वेत रक्त कोशिका में कमी आ जाए तो ये संक्रमण, सुजन और यहाँ तक की कैंसर की निशानी हो सकती है ।

प्लेटलेट्स ( Platelets ):~ जब हमारे शरीर पर कोई चोट या घाव हो जाता है तो कुछ समय बाद उस चोट से खून बहना बंद हो जाता है ये खून में मौजूद Platelets के कारण ही होता है ।

अगर प्लेटलेट्स में किसी तरह का बदलाव हो तो ये स्वास्थ के लिए घातक साबित हो सकता है क्योकि इससे चोट लगने पर ज्यादा खून बह जाएगा । ये हालत खराब हैल्थ कंडीशन के लक्षण हैं ।

पूर्ण रक्त गणना ( Complete blood count ) क्यो किया जाता है

Cbc टेस्ट करवाने के पीछे डॉक्टर के कई कारण होते हैं, हो सकता की वह आपकी स्वास्थ्य हालत या हैल्थ कंडीशन को जानने के बाद ही डॉक्टर कोई दवा देना चहाता हो, वजह जो भी लेकिन आमतौर पर Cbc Test निम्न कारणों के लिए करवाया जाता है:-

आपकी स्वास्थ्य स्थिति को जानने के लिए:~ ज्यादातर डॉक्टर मरीज की हैल्थ कंडीशन को जानने के लिए सीबीसी टेस्ट करवाते है ताकी वो मरीज की Overall health को समझ कर सही से इलाज कर सके ।

किसी बिमारी के इलाज के लिए:~ यदि आपने अपने डॉक्टर को कमजोरी, थकान, बुखार, लालपन, सुजन या ज्यादा खून बहने के बारे में बताया है तो डॉक्टर आपको Cbc test करवाने के लिए कहेगा क्योकि इससे वो इन लक्षणों के कारण को सही तरीके से समझ कर आपकी समस्या का समाधान निकाल पाएगा ।

पहले से हुई किसी बिमारी को मॉनीटर करने के लिए:~ अगर आप किसी ऐसी बिमारी से ढ़ीक हुए हैं जो रक्त कोशिकाओं ( blood cells ) प्रभावित करती हैं तो आपका डॉक्टर सीबीसी टेस्ट को करवाने के लिए जरूर कहेगा ।

इलाज को मॉनीटर करने के लिए:~ कुछ प्रकार के ट्रीटमेंट होते हैं जो रक्त गणना को प्रभावित कर सकते हैं इसलिए डॉक्टर सीबीसी टेस्ट के लिए कह देता है ।

इसे भी पढ़े:>> Combiflam tablet uses in hindi कॉम्बिफ्लेम के फायदे और नुकसान

टेस्ट के नतीजों के क्या मायने हो सकते हैं?

रिजाल्ट थोडे अलग हो सकते हैं ये आपकी रक्त गणना पर निर्भर करता है । यहाँ हम आपको एक सामान्य व्यस्क के Cbc टेस्ट के नतीजों के बारे में बता रहे हैं लेकिन ध्यान रहे के अलग-अलग लैबों के नतीजों में थोडा-थोडा अंतर हो सकता है ।

लाल रक्त कोशिका:~ पुरूष में:- 4.32-5.72 मिलीयन सैल्स/Mcl
महिला में:- 3.90-5.03 मिलीयन सैल्स/ mcl

हिमोग्लोबिन:~ पुरूष में:- 135-175 ग्राम/L
महिला में:- 120-155 ग्राम/L

हेमाटोक्रिन:~ पुरूष में:- 38.8-50.0 प्रतिशत
महिला में:- 34.9-44.5 प्रतिशत

श्वेत रक्त कोशिका:~ 3,500 से 10,500 सैल्स/mcL

प्लेटलेट्स:~ 150,000 से 450,000/mcL

देखिये Cbc test कोई आखरी जाँच नही होती । अगर Cbc test में रक्त कोशिओं की गणना ज्यादा या कम है तो ये कई प्रकार की कंडीशन का संकेत हो सकता है । जिसके ट्रीटमेंट के लिए दूसरे टेस्ट भी करवाए जा सकते हैं ।

अगर किसी व्यक्ति का Cbc test आसामन्य आया है तो उसे निम्नलिखित टेस्ट करवानो पड सकते हैं:-

•आइरन या दूसरे विटामिन तथा मिनरल की कमी

•खून से जुडे विकार

•दिल से जुडी बिमारीयां

•स्व-प्रतिरक्षित विकार

• बोन marrow से जुडी समस्याएं

•कैसंर का टेस्ट

•सुजन या संक्रमण का

•किसी दवा की प्रतिक्रियाा या Side effects

यदि दुर्भाग्य से आपके Cbc test के रिजाल्ट अबनॉर्मल आते हैं तो आपका डॉक्टर दुबारा टेस्ट करवाने के लिए कह सकता है ताकि ये पक्का हो जाएगा की आपका Cbc Test सच में असामान्य है

इसके अलावा वो दूसरे टेस्ट करवाने की सलाह भी दे सकता है ताकि आपके मर्ज का समय रहते पता चल जाए और उसका सही से ट्रीटमेंट हो पाए

सीबीसी टेस्ट से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवाल और उनके जबाव ( FAQ about cbc test in hindi )

यहाँ हम आपको सीबीसी टेस्ट से जुडे कुछ महत्वपूर्ण सवालों व उनके जबाव बता रहें जो अक्सर पहली बार सीबीसी टेस्ट करवाने वाले बंदे के दिमाग में आते हैं ।

सीबीसी टेस्ट किन बिमारीयों का पता लगा सकता है?

Complete blood count test कई बिमारीयों का पता लगा सकता है जिनमे मुख्य तौर पर ऐनेमिया ( आइरन की कमी ),  स्व-प्रतिरक्षित विकार, हड्डी की मज्जा से जुडी समस्याओं, कैंसर, डीहाइड्रैशन, दिल से जुडे रोग, संक्रमण और सुजन आते हैं ।

क्या सीबीसी टेस्ट से मधुमेह का पता लगाया जा सकता है?

Cbc test बल्ड शुगर और खून में मौजूद प्रोटीन की जानकारी भी देता है लेकिन ब्लड शुगर का पता लगाने के लिए दूसरे टेस्ट करवाए जाते हैं ।

क्या पूर्ण रक्त गणना से किडनी फंक्शन के बारे में भी पता चलता है?

किडनी erythropoietin नाम का हार्मोन बनाती है जो लाल रक्त कोशिकाओं ( red blood cell ) के प्रोडक्शन को नियंत्रित करता है जोकि किडनी डेमेज होने पर प्रभावित हो सकता है जिसका पता Cbc test में लग सकता है लेकिन इस उद्देश्य के लिए इस टेस्ट को नही करवाया जाता ।

सीबीसी टेस्ट कितने पैसे में होता है?

हर जगह Cbc test की कीमत अलग-अलग होती है और हर लैब के प्राइस भी अलग-अलग होते हैं । इसलिए ये डिपेंड करता है की आप किस जगह रहते हैं और किस लैब में टेस्ट करवा रहे हैं ।

क्या खाली पेट टेस्ट करवा सकते हैं?

हाँ ! टेस्ट करवाने से पहले आप खाली पेट रहें तो अच्छा है लेकिन कुछ खाकर ब्लड टेस्ट करवाने में भी कोई हर्ज नही है लेकिन अगर अच्छा रहेगा अगर आप डॉक्टर के साथ राय-मशवरे कर लें

तो दोस्तों हमें उम्मीज है की आपको हमारा ये आर्टिकल Cbc test in hindi जरूर पसंद आया होगा यदि आप इसी तरह के स्वास्थ्य से सम्बन्धित जानाकारी चहाते हैं तो हमारे ब्लॉग से जुड़े रहें । पोस्ट को अंत तक पढ़ने और अपना कीमती समय देने के लिए धन्यवाद 🙏