मुक्ता वटी कितने दिन में असर करती है ? यहां है पुरी और सही जानकारी

मुक्ता वटी कितने दिन में असर करती है :- नमस्कार दोस्तों एक बार फिर आपका स्वागत है एक नई पोस्ट में जहां हम आपको हमेशा की तरह एक असरदार और काम की दवा के बारे में बताने वाले हैं, जैसा की आप टाइटल देख कर समझ गए होगे यहां हम आपको बताने वाले हैं मुक्ता वटी कितने दिन में असर करती है ?

जी हां दोस्तों, मुक्ता वटी बाबा रामदेव की कपंनी पतंजलि केे द्वारा बनाई गई एक आयुर्वेदिक दवा है जिसका Use कई रोगों के उपचार में किया जाता है ।

वैसे तो इस दवा का उपयोग डॉक्टर की सलाह के बाद कई गंभीर रोगो में होता है लेकिन आमतौर पर इस दवा को रक्तचार या Blood pressure की समस्या में करते हैं इसलिए कुछ लोग इस दवा को पतंजलि ब्लड प्रेशर की दवा भी कहते हैं ।

हो सकता है की आपने इस दवा के बारे में काफी कुछ सुन रखा हो लेकिन फिर भी आमतौर पर लोगों को इस दवा की पुरी जानकारी नही होती इसलिए यहां हम आपको बताने वाले हैं की मुक्ता वटी कितने दिन में असर करती है ( mukta vati kitne din me asar karta hai ) ?

इसके अलावा हम आपको बताने वाले हैं मुक्ता वटी लेने का तरीका, मुक्ता वटी कैसे यूज करें और मुक्ता वटी लेने के फायदे और नुकसान क्या हैं वगहरा – वगहरा

तो आइये दोस्तों अब बिना देरी किये आर्टिकल को शुरू करते हैं और मुक्ता वटी के बारे में जानते हैं ।

Read more :> पौरुष जीवन कैप्सूल कितने दिन में असर दिखाता है ? जानिए फायदे, नुकसान और उपयोग का तरीका

मुक्ता वटी कितने दिन में असर करती है – mukta vati kitne din me asar karta hai

मुक्ता वटी कितने दिन में असर करती है
मुक्ता वटी कितने दिन में असर करती है

दोस्तों इस दवा को भारत की एक मशहूर आयुर्वेदिक कपंनी Patanjali के द्वारा बनाया गया है इसलिए ये एक आयुर्वेदिक दवा ( Ayurvedic medicine ) जिस कारण इस दवा को अन्य दवाओं की तुलना में असर दिखाने में समय लगता है ।

अमूमन 1 से 3 महीने के भीतर ये अपना असर दिखाना शुरू कर देती है इसके अलावा दवा का असर व्यक्ति और बिमारी पर भी निर्भर करता है यदि बिमारी सामान्य है और पीडित लंबे समय से परेशान नही है तो जल्द ही छुटकारा पाया जा सकता है ।

वहीं अगर रोग लंबे समय से है और पीडित की हालत भी गंभीर है तो दवा को असर दिखाने में थोडा टाइम लग सकता है । बहरहाल अगर आप दवा को लेने के साथ – साथ Life style में जरूरी चैंज करते हो तो जल्द ही छुटकारा मिल सकता है ।

खैर आप जब भी किसी आयुर्वेदिक दवा का सेवन करें तो आपको थोडा धैर्य रखना चाहिये क्योकि आयुर्वेदिक मेडिसन जड पर काम करती हैं और जड को काटने में समय लगता है ।

मुक्ता वटी में भी कई शक्तिशाली आयुर्वेदिक औषधियों का मिश्रण है जो सीधे रोग की. जड पर प्रहार करती हैं जैसे – पुष्करमूल, उस्तेखद्दस, शंखपुष्पी, घोडबैक, मुक्ता पिष्टी, अश्वगंधा और गाजवा

Read also :> अश्वशिला कैप्सूल कितने दिन खाना चाहिए, कब खानी चाहिए, फायदे क्या हैं ? यहां है सही और पूरी जानकारी

पतंजलि मुक्तावटी के फायदे – Patanjali Mukta Vati Ke Fayde

पतंजलि मुक्तावटी कई रोगो में रामबाण दवा मानी जाती है इसलिए इस दवा को लेने से ना केवल बिमारीयों में आराम मिलता है बल्कि Overall health में भी सुधार देखने को मिलता है जो कुछ इस प्रकार है –

1. मर्गी के दौरौं से परेशान रहने वाले व्यक्ति के लिए ये दवा चमत्कारी है

2. रक्तचाप के पीडितों के लिए भी ये दवा रामबाण है
3. जो लोग कोलेस्ट्रॉल का सामना कर रहे हैं उनको इस आयुर्वेदिक दवा से काफी लाभ मिलता है ।
4. पतंजलि मुक्तावटी के फायदे Heart health से जुडी समस्याओं में भी हैं
5. दिल के रोगी भी इस दवा को डॉक्टर की सलाह कै बाद ले सकते हैं क्योकि ये Overall Heart health में भी सुधार करती है ।
6. रात को नींद ना आने की समस्या या अनिद्रा के रोग में भी इस दवा को काफी कारगर माना जाता है ।

पतंजलि मुक्ता वटी के नुकसान – Mukta Vati Ke Nuksan

जैसा की हमने पहले कहा पतंजलि मुक्ता वटी एक आयुर्वेदिक दवा है जिसको यूज करने पर कोई दुष्प्रभाव या Side effects नही होते लेकिन कई बार लोग इस दवा को बिना सावधानी या जरूरत से ज्यादा ले लेते जिसकी वजह से उन्हे कुछ नुकसान भुगतने पडते हैं । For example :-

1. दवा को लेने के बाद शराब का सेवन करने पर नुकसान हो सकता है क्योकि अभी तक ज्ञात नही है की एल्कोहल के साथ इस दवा का प्रभाव कैसा होता है ।

2. ज्यादा मात्रा में लेने से पीडितों को सिर दर्द व चक्कर आने की समस्या हो सकती है ।

3. बच्चों को इस दवा से दूर रखें क्योकि बिना डॉक्चर के परामर्श के बच्चों को ये दवा देने से उनको नुकसान हो सकता है ।

4.प्रेगनेंट और बच्चों को दूध पिलाने वाली मां को इस दवा के सेवन से बचना चाहिये और अगर दवा लेनी ही है तो डॉक्टर की सलाह के बाद ही लें

5. इस दवा में कई सारी आयुर्वेदिक दवाओं का मिश्रण मौजूद है और हो सकता है की इनमें से कुछ आयुर्वेदिक हर्ब से किसी व्यक्ति को एलर्जी हो, So ऐसे व्यक्ति को इस दवा से बचना चाहिये और किसी भी प्रकार का Side effect होने पर तुरंत डॉक्टर से Contact करना चाहिये ।

पतंजलि मुक्ता वटी प्राइस – Mukta Vati Ka price in hindi

अन्य आयुर्वेदिर दवाओं की तुलना में पतंजलि मुक्ता वटी प्राइस – Mukta Vati Ka price काफी कम है, आपको अपने नजदीकी पतंजलि स्टोर पर मात्र 220 में ये दवा मिल जाएगी । अगर आपके करीब में कोई पतंजलि स्टोर नही है तो आप Online amazon या फिर Flipkart से भी इस दवा को Discount पर ले सकते हैं ।

मुक्ता वटी लेने का तरीका – Mukta Vati Kaise Khaye

आपको किसी भी दवा का पुरा लाभ तभी मिलेगा जब आप सही तरीके से सका सेवन करे, और हमने आपको बताया भी की अगर इस दवा को गलत तरीके से लिया जाए तो Long term में नुकसान भी हो सकता है ।

खैर मुक्ता वटी लेने का तरीका काफी सरल है आपको बस
इस मेडिसिन की एक – एक गोली को सुबह शाम लेना हैं, आप इस दवा को खाना खाने के बाद या फिर भोजन करने से पहले भी ले सकते हैं ।

बहरहाल हम आपको सलाह देगे की आप किसी अच्छे आयुर्वेदिक डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही इस दवा का सेवन शुरू करें काफी लोग बिना डॉक्टर के परामर्श के इस दवा को लेना शुरू कर देते हैं जिसके बाद उन्हे पछताना पडता है । आमतौर पर डॉक्टर रोग की गंभीरता और मरीज की सेहत देखने के बाद ही कोई सही खुराक Suggest करता है ।

सारांश

So प्यारे दोस्तों आज इस आर्टिकल के द्वारा हमने आपको मुक्ता वटी की पुरी जानकारी दी, ये एक आयुर्वेदिक दवा है जिसका आमतौर पर यूज रक्तचार में होता है लेकिन काफी लोगों को ये पता नही होता की पतंजलि मुक्तावटी के फायदे – Patanjali Mukta Vati Ke Fayde क्या है या मुक्ता वटी कितने दिन में असर करती है

इसलिए यहां हमने आपको इस मेडिसिन की पुरी और सही जानकारी देने का प्रयास किया, अगर आप आगे भी इसी तरह के लेख को पडते रहना चहाते हैं तो हमारे टेलिग्राम ग्रुप से जुडना ना भूलें ।

disclaimer :- इस लेख में बताई गई बातें लेखक के अपने विचार हैं, Healthydawa इस जानकारी की गारंटी नही लेता है और ना ही पुष्टी करता है, अगर आपको विशेषज्ञ सलाह चाहिये तो डॉक्टर से जरूर परामर्श लें ।

Leave a Comment