पीर बाबा को बुलाने का मंत्र : पीर बाबा को कैसे बुलाएं Peer Baba Ko Bulane Ka Mantra

यदि आप पीर बाबा या साधु सूफी संत को मानते हैं और उनपर श्रद्धा रखते हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए महत्वपूर्ण होने वाला है क्योंकि आज हम पीर बाबा को बुलाने का मंत्र (Peer Baba Ko Bulane Ka Mantra) जानने वाले हैं। पीर बाबा के मंत्र को बहुत शक्तिशाली माना जाता है जिसके अनुसार ये भक्तों के सभी कष्टों को हर लेते हैं।

जिन लोगों को पता नहीं है कि पीर बाबा कौन होते हैं उन्हें बता दें कि पीर बाबा असल में इस्लाम धर्म के ज्ञानी लोग होते है जो सूफ़ी परम्परा को मानते है तथा इस्लाम को शांति,दयालुता और सहिष्णुता का पंथ मानकर प्रसार करते है। एक तरह से इन्हे इस्लाम का प्रवर्तक कहा जा सकता है और ये सिद्धि के बल पर चमत्कार कर सकते हैं।

आदिकाल में जो भी महान सूफी या पीर बाबा हुए हैं इस्लाम में उनकी विशाल समाधियां मिलती हैं और उनके भक्त उन्हें अपने आराध्य की तरह पूजते हैं। इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि पीर बाबा को कैसे प्रसन्न किया जाए और साथ ही बताएंगे ख्वाजा पीर का मंत्र क्या हैं। तो चलिए शुरू करते हैं।

पीर बाबा को बुलाने का मंत्र

पीर बाबा को बुलाने का मंत्र कौन सा है ?

पीर बाबा का मंत्र जाप करने से पहले ध्यान की मुद्रा में आएं और स्वच्छता का विशेष ध्यान रखें। ख्वाजा पीर का कलमा से और सैयद बाबा के कर्म प्रभाव से जल्द ही आपकी वजीफा पीर बाबा तक पहुंचेगी। इस मंत्र का जाप करें –

या पीर बाबा,
तुम मेरे वालिद हो,
तुम मेरे वली हो,
तुम मेरे मुर्शिद हो।

मेरी तलबी पूरी करो,
मेरी तलब पूरी करो,
मेरी आरजू पूरी करो,
मेरी मनोकामना पूरी करो।

या पीर बाबा,
मैं तुम्हारा गुलाम हूं,
मैं तुम्हारा भक्त हूं,
मैं तुम्हारी शान हूं।

तुम मेरी मदद करो,
तुम मेरी रक्षा करो,
तुम मुझे खुशहाल बनाओ।
या पीर बाबा,
तुम मेरे रब हो,
तुम मेरे मालिक हो,
तुम मेरे स्वामी हो।

मेरी किस्मत चमका दो,
मेरी तकदीर बदल दो,
मेरा जीवन सुखी बना दो।

या पीर बाबा,
मैं तुम्हारा दीवाना हूं,
मैं तुम्हारा गुलाम हूं,
मैं तुम्हारा भक्त हूं।

तुम मेरी मदद करो,
तुम मेरी रक्षा करो,
तुम मुझे खुशहाल बनाओ।

इस पीर बाबा को बुलाने का मंत्र को 108 बार या 21 बार या 7 बार जपने से पीर बाबा प्रसन्न होते हैं और आपकी मुरादें पूरी करते हैं। इस मंत्र को जपते समय मन को एकाग्र रखना चाहिए और पीर बाबा से अपनी मुरादें पूरी करने की प्रार्थना करनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें – मकड़ी झाड़ने का मंत्र, दुआ, दवा और तरीका हिंदी में 

पीर बाबा को कैसे प्रसन्न किया जाए? Peer Baba Ko Bulane Ka Mantra

पीर बाबा को प्रसन्न करने के लिए आपको उनका मंत्र के द्वारा आव्हान करना चाहिए वह भी सच्चे मन से। आप चाहे किसी भी भगवान, देव या शक्ति पर भरोसा करते हों, जरुरी है कि आप उन पर पूर्ण शृद्धा बनाएं रखें और उनकी शक्ति को महसूस करें। ख्वाजा पीर का मंत्र आप निम्नलिखित रूप से अपना सकते हैं :

अल्लाह हू अकबर,
ला इलाहा इल्लल्लाह,
मुहम्मदुर् रसूलल्लाह।

या शाहिद, या कायूम,
या हसीन, या हुसैन,
या हसन, या हुसैन,
या अली, या अली,
या अली।

या पीर बाबा,
तुम मेरे पीर हो,
तुम मेरे साहिब हो,
तुम मेरे महबूब हो।

मेरी मुराद पूरी करो,
मेरी परेशानियां दूर करो,
मेरी किस्मत चमका दो,
मेरा जीवन सुखी बना दो।

या पीर बाबा,
मैं तुम्हारा दीवाना हूं,
मैं तुम्हारा गुलाम हूं,
मैं तुम्हारा भक्त हूं।

तुम मेरी मदद करो,
तुम मेरी रक्षा करो,
तुम मुझे खुशहाल बनाओ।

अल्लाह हू अकबर,
ला इलाहा इल्लल्लाह,
मुहम्मदुर् रसूलल्लाह।

इस मंत्र का आप अपनी क्षमता के अनुसार 108 बार या 1001 बार जाप करें और इसे जपने से पीर बाबा प्रसन्न होते हैं। अक्सर इन मन्त्रों का जाप किसी बुरी स्थिति से बाहर निकलने के लिए किया जाता है, इसलिए किसी बुरी मंशा से उनके प्रयोग से बचें और खुश रहें।

पीर बाबा की पूजा कैसे की जाती है?

अभी तक आपने जाना पीर बाबा को बुलाने का मंत्र क्या है लेकिन आपको यदि पीर बाबा या लखदाता पीर की कृपा प्राप्त करने रहनी है हमेशा के लिए तो आपको पता होना चाहिए कि पीर बाबा की साधना की विधि क्या है। गलत तरीके से की गई साधना से भी कोई लाभ नहीं होता है।

पूजा करने के लिए, सबसे पहले एक साफ और शांत जगह का चुनाव करना चाहिए। फिर, एक चौकी या आसन बिछाकर उस पर पीर बाबा की तस्वीर या प्रतिमा रखनी चाहिए। इसके बाद, एक दीपक जलाना चाहिए और पीर बाबा के नाम की चादर चढ़ानी चाहिए।

  • पूजा करते समय, भक्त को पीर बाबा के मंत्रों का जप करना चाहिए।
  • पूजा के बाद, भक्त को पीर बाबा से अपनी इच्छाओं को पूरी करने की प्रार्थना करनी चाहिए।
  • आपको पूजा करते समय, अपनी पूर्व गलतियों के बारे में पीर बाबा से क्षमा मांगनी चाहिए और उनसे आशीर्वाद मांगना चाहिए।
  • कहते हैं जहां भक्ति वहां भगवन, इसलिए सिर्फ बेमन से पूजा पाठ न करें चाहे कोई भी भगवन हो, श्रद्धा पूर्वक भक्ति करेंगे तो पीर बाबा अवश्य सुनेंगे।

इसे भी पढ़ें – ऊपरी हवा का सबसे बेस्ट इलाज : भूत-प्रेत भगाने के उपाय/मंत्र

पीर बाबा कौन सा देवता है? पीर बाबा को बुलाने का मंत्र

पीर बाबा कोई देवता या भगवन नहीं होते हैं बल्कि ये सूफी संत होते हैं जो अपनी भक्ति और तपस्या से अनेक सिद्धियां प्राप्त कर लेते हैं और चमत्कार करते हैं। ये बाबा इस्लाम धर्म के मानने वालों के लिए एक आध्यात्मिक गुरु हैं जिन्हे दयालु और करुणामयी माना जाता है। कहते हैं कि यदि सच्चे मन से उनका कोई भक्त उनकी प्रार्थना करता है तो वे भक्तों की रक्षा करते हैं और उन्हें सुख-समृद्धि प्रदान करते हैं।

जैसा कि हमने बताया पीर बाबा देवता नहीं होते हैं लेकिन उनके पास अपार सकती होती हैं जिनसे वे आपके दुःख हर सकते हैं। ऊपर हम पहले ही मंत्र बता चुके हैं जिसके माध्यम से आप पीर बाबा की साधना कर सकते हैं, उन्हें प्रसन्न कर सकते हैं और अपनी मनोकामनाएं पूरी कर सकते हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों, ये हमारा आज का थोड़ा हटके आर्टिकल जिसमे हमने पीर बाबा के बारे में जाना और बात की पीर बाबा को बुलाने का मंत्र (Peer Baba Ka Mantra) क्या है। उम्मीद है आपको यह जानकारी अच्छी और रोचक लगी और आपको इसका फायदा मिला होगा।

एक बात का ध्यान रखें कि हमारी वेबसाइट किसी प्रकार के तंत्र मंत्र या जादू टोटके का समर्थन नहीं करती है। यह आर्टिकल सिर्फ जानकारी हेतु लिखा गया है, आप अपनी इच्छानुसार किसी भी व्यक्ति या धर्म का चुनाव कर उनकी भक्ति के लिए पूर्णतः स्वतंत्र हैं।

Leave a Comment