सबसे असरकारी रूका हुआ पीरियड लाने की 10 दवाएं और उपाय

रुका हुआ पीरियड लाने की दवा :- पीरियड्स यानी मासिक धर्म को महिलाओं के लिए इश्वर के द्वारा दिये गये किसी वर्दान से कम नही माना जाता क्योकि ये महिला की उस शक्ति को दर्शाता है जिससे वो इस दुनिया में नये जीवन को लाने में सक्षम होती है ।

कुछ महिलाओं को Periods किसी झंझट से कम नही लगते क्योकि इस दोरान ना केवल उन्हे शारीरिक दर्द से गुजरना पडता है बल्कि वो भावनात्मक रूप से भी काफी परेशान हो जाती है ।

लेकिन बहरहाल आज ज्यादातर लड़कियां समय पर पीरियड्स ना होने की समस्या से अधिक परेशान रहती हैं । क्योकि पीरियड समय पर ना होना एक असामान्य घटना है ।

पहले मासिक धर्म में अनियमिता के एक-आध ही मामले देखने को मिलते थे लेकिन आज बडी तदात में लड़कियों को इस समस्या का सामना करना पडता है । इसलिए इस आर्टिकल में हम आपको रुका हुआ पीरियड लाने की दवा के बारे में बता रहे हैं ।

साथ ही आपको पीरियड्स में अनियमिता, उसके कारण और उससे जुड़ी दूसरी जरूरी जानकारी बिल्कुल सरल हिंदी में जानने को मिलेगी ।

तो ज्यादा समय बर्वाद ना करते हुए जानते हैं की
एमसी चालू करने की दवा का क्या नाम है और पीरियड्स नहीं आने पर क्या करना चाहिए ?

पीरियड्स नहीं आने पर क्या करना चाहिए – periods lane ke tarike

periods के ना होने का मुख्य कारण गर्भधारण होता है यानी जब कोई महिला प्रेग्नेंट होती है उस हालत में उसको पीरिड्स आना रूक जाते हैं ।

इसलिए यदि आपने हाल ही में शारीरिक सम्बन्ध बनाए हैं तो अपना Pregnancy test जरूर करवा लें हो सकता है आपके मासिक धर्म ना आने के पीछे यही कारण हो ।

Pregnancy के अलावा पीरियड्स रूकने के कई दूसरे कारण भी होते हैं जिनके बारे में विस्तार से हम आपको नीचे बता रहे हैं ।

पीरियड्स रूकने के कारण – periods rukne ke karan

प्रेगनेंसी के अलावा पीरियड्स के ये कारण होते हैं :-

1. गर्भनिरोधक गोलियां :- Birth control Pills के कारण पीरियड्स का रूकना बिल्कुल आम बात है । मेडिकल न्यूज टू डे के मुताबिक इससे पीरियड्स मिस हो सकते हैं या कुछ समय के लिए पुरी तरह रूक भी सकते हैं ।

अधिकतर महिलाओं को गर्भनिरोधक गोलियां लेने के कुछ ही महीने के अंदर ये समस्या हो सकती है अगर आपको भी किसी Birth control Pills लेने के बाद ये समस्या पेश आ रही है तो आपको जल्द से जल्द अपने डॉक्टर ले बात करनी चाहिये ।

कुछ अन्य गर्भ निरोधक विधियां भी पीरियड रूकने का कारण बन सकती हैं जैसे कि हार्मोनल अंतर्गर्भाशयी डिवाइस (आईयूडी), प्रत्यारोपण, और इंजेक्शन

2. पोषक तत्वों की कमी :- न्यूट्रीशन की कमी पीरियड्स रूकने के साथ कई दूसरे Health problems का भी कारण हो सकती है क्योकि Malnutrition हाइपोथैलेमस और पिट्यूटरी ग्रंथि कार्य को प्रभावित करते हैं ।

3. शारीरिक कमजोरी :- शरीर का वजन कम होने से हाइपोथैलेमस और पिट्यूटरी ग्रंथि का कार्य प्रभावित हो सकता है जिससे पीरियड्स का Time affect हो सकता है ।

4. अत्यधिक तनाव :- अगर आप हमारे ब्लॉग Healthy dawa के रेगुलर विजिटर है तो आपने एक बात पर गौर किया होगा की मैं अक्सर डिप्रेशन के हानिकारक प्रभावों के बारे में बताता हू ।

तनाव या डिप्रेशन दिमक की तरह होता है जिससे इंसान अंदर से बिल्कुल घोघला हो जाता है । तनाव के दूसरे हानिकारक प्रभावों के अलावा इससे पीरियड्स की टाइमिंग भी प्रभावित होती है ।

तनाव से शरीर के हार्मोन गडबडा जाते हैं जिसके चलते हाइपोथैलेमिक function का कार्य नकारात्मक रूप से प्रभावित होता है ।

5. अत्यधिक व्यायाम:- अत्यधिक व्यायाम यानी Excessive exercise हाइपोथैलेमिक के कार्य को प्रभावित कर सकती है । कुछ रीसर्चों के मुताबिक नियमित रूप से ज्यादा एक्सरसाइज करने वाली महिलाओं में आधी पीरियड रीलेटेड मामूली समस्याओं का सामना करती हैं ।

6. ईटिंग डिसऑर्डर :- एनोरेक्सिया या बुलिमिया जैसे
ईटिंग डिसऑर्डर के चलते भी पीरियड्स रुक सकते हैं
क्योकि इनसे न्यूट्रीशन की कमी या शारीरिक कमजोरी हो सकती है ।

7. अत्यधिक वजन होना ( Excessive weight gain ) :- लगातार वजन बढ़ने से शरीर में हार्मोनल असंतुलन होता है जिससे पीरियड्स प्रभावित होते हैं ।

8. मानसिक स्वास्थ्य की दवाएं ( Mental health medications ) :- कुछ खास प्रकार के एंटीडिप्रेसेंट और मूड स्टेबलाइजर्स हाइपोथैलेमस और पिट्यूटरी ग्रंथि के काम करने के तरीके को प्रभावित कर सकते हैं। इस स्थिति में अगर वे दवाएं हार्मोन की सही मात्रा का प्रोडक्शन नही कर रही है तो इससे दवा लेने वाले व्यत्ति के मासिक धर्म रूक सकते हैं ।

9. पॉलीसिस्टिक अंडाशय सिंड्रोम ( Polycystic ovary syndrome ) :- पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस) एक तरह का हार्मोनल डिसऑर्डर है जो दुनिया भर में 6 से 8 प्रतिशत महिलाओं को प्रभावित करता है ।

इस बिमारी के निम्नलिखित लक्षण होते हैं :-

1.अनियमित पीरियड्स
2. तेज हेयर ग्रोथ
3. गर्भवती होने में कठिनाई
4. वजन बढ़ना
5. मुंहासे

10. प्रैम्चैयोर डिम्बग्रंथि विफलता ( Premature ovarian failure ) :-

समय से पहले ovarian failure तब होता है जब अंडाशय 40 वर्ष की उम्र से पहले ही काम करना बंद कर देता हैं। इस हालत में पीरियड्स मिस हो सकते हैं।

खैर, यह प्रारंभिक रजोनिवृत्ति की तरह नहीं है, जो तब होता है जब मासिक धर्म पूरी तरह से बंद हो जाते हैं ।

11. टर्नर सिंड्रोम ( Turner syndrome ) :- टर्नर सिंड्रोम एक जेनेटिक डिसऑर्डर है। इस बिमारी से पीडित लोगों में अविकसित अंडाशय होते हैं जिससे मानसिक धर्म बंद हो सकता है ।

12. Genital tract defects :- ये असल में संरचनात्मक समस्याएं हैं जो पीरियड्स के Absense का कारण बन सकती हैं ।

13. पिट्यूटरी ग्रंथि की समस्याएं :- पिट्यूटरी Gland मासिक धर्म के सर्कल को करने वाले हार्मोन को रिलीज करता है। पिट्यूटरी ग्रंथि में समस्याएं होने से कई Health problems जन्म ले सकती है जोकि मासिक धर्म के समय प्रभावित को करती है जैसे:-

1. पिट्यूटरी ग्रंथि ट्यूमर

2. प्रसवोत्तर परिगलन ( postpartum necrosis ) :- इसमें गर्भावस्था के बाद पिट्यूटरी ग्रंथि में कोशिकाओं की टाइम से पहले ही मौत हो जाती है ।
3. सारकॉइडोसिस ( sarcoidosis ) :- यह एक inflammatory condition है ।

So friends अभी तक हमने आपको बताया की पीरिययड्स क्यो रूक जाते हैं अब हम आपको अगले भाग में बताएगे की ruka hua period kaise laye tablet

रुका हुआ पीरियड लाने की दवा – ek din me periods lane ki tablet

रुका हुआ पीरियड लाने की दवा
रुका हुआ पीरियड लाने की दवा

आइये दोस्तों अब जानते हैं jaldi period kaise laye या periods jaldi lane ke gharelu nuskhe in hindi क्या हैं ?

मासिक धर्म लाने की गोली है Vitamin c tablets

रूके हुए मानसिक धर्म को लाने के लिए डॉक्टर अक्सर मरीज को विटामिन सी की टेबलेट्स देते हैं क्योकि इससे शरीर में एस्ट्रोजन का लेवल बढ़ता है जबकि प्रोजेस्ट्रोन का स्तर कम होता है ।

इस प्रकार विटामिन सी गर्भाशय में Contraction को बढ़ा कर पीरियड्स जल्दी लाने में मदद करता है । इसलिए कुछ लोग विटामिन सी को रुका हुआ पीरियड लाने की दवा के रूप में भी इस्तेमाल करते हैं ।

period jaldi lane ki medicine है पपीता

जो महिलाएं पीरियड्स ना आने की समस्या से परेशान हैं उनके लिए पपीता काफी फायदेमंद साबित हो सकता है । पपीते को सालों से लोग periods jaldi lane ke gharelu nuskhe के रूप में Use करते आये हैं ।

पपीता बच्चेदानी ( uterus ) में कसाव पैदा करता है जिससे period जल्दी लाने में मदद मिलती है । पपीते को रूका हुआ पीरियड लाने के घरेलू उपाय के रूप में इस्तेमाल करने के लिए आपको कच्चे केले का जूस बना कर दिन में दो बार लेना है ।

५ मिनट में मासिक धर्म लाने की दवा है मेथी दाना

कुछ बेवकूफ लोग 5 minute me period lane ke upay पूछते हैं जोकि संभव नही है क्योकि एलोपैथिक दवाओं को भी असर दिखाने में कई घंटे या दिन लग सकते हैं ।

लेकिन दीर्घ काल के लिए आप कुछ असरदार घरेलू उपायों का सहारा जरूर ले सकते हैं । जिसमें मेथी को भी periods jaldi lane ke upay के रूप में इस्तेमाल किया जाता है ।

period jaldi aane ke upay है धनिया

अगर आप भी चिंतित है की periods lane ke liye kya kare तो आप धानिये का उपयोग कर सकती है । इससे पीरियड्स की अनियमिता दूर होती है और डेट पर Regularly periods आने लगते हैं ।

धानिये का उपयोग करने के लिए एक चम्मच धानिया पाउडर को पानी में मिला कर उसको उबाल लें और उसका सेवन करें ।

लेकिन ध्यान रहे की इस पानी का उपयोग महावारी के पहले करना हैं, पीरियड शुरू होने पर इसका इस्तेमाल ना करें ।

period lane ke upay है खट्टे फल

खट्टे फलों में विटामिन सी की प्रचुर मात्रा होती है साथ ही इनके कई Health benefits भी होते हैं खासकर महिलाओं को इनका सेवन जरूर करना चाहिये ।

क्योकि इससे शरीर में पोषत तत्वों की भरपाई होगी और physical weakness भी दूर होती है । जिससे समय पर पीरियड आने लगेगे हैं ।

ruka hua period kaise laye नारियल पानी के द्वारा

नारियल पानी के द्वारा भी बिना किसी Side effects के पीरियड्स को लाया जा सकता है आपको सिर्फ खाली पेट 300 से 400 मिलीलीटर ताजा नारियल पानी को पीना है ।

मगर इस बाद का ध्यान रहे की आप नारियल पानी के 4 – 5 घंटे बाद किसी खाद पदार्थ का सेवन ना करें आप Only normal पानी पी सकते हैं ।

period jaldi kaise laye दालचीनी के द्वारा

दालचीनी डेट से पहले और जल्दी पीरियड लाने का देशी उपाय है इससे शरीर का इंसुलिन लेवल कम होता है और गर्मी बढ़़ती है ।

जो महिलाएं अपनी महावारी के समय को लेकर चिंतित रहती है उनके लिए दालचीनी लाभकारी हो सकती है ।

दालचीनी का Use कर के रूके हुए पीरियड्स को लाने के लिए एक चम्मच दालचीनी पाउडर को दूध में डाल कर पीयें । ऐसा आपको तब तक करना है जब तक आपकी समस्या खत्म नही हो जाती ।

period jaldi lane ki dawa है अजवाइन

अजवाइन जल्दी महावारी लाने का घरेलू उपाय है इस औषधि का उपयोग करने से महावारी से रीलेटेड समस्याओं से छुटकारा पाने में मदद मिलती है ।

अगर आप असमय होने वाले पीरियड्स से परेशान है तो चाय में अजवाइन के कुछ दाने डाल कर दिन में 2-3 बार पी सकते हैं । इससे आपको डेट पर पीरियड लाने में मदद मिलेगी ।

period jaldi aane ka tarika है जीरे का पानी

जीरे की तासीर गर्म होती है इसलिए इसको महावारी लाने के घरेलू उपाय के रूप में काफी इस्तेमाल किया जाता है ।

जीरे का use करने के लिए इसको पानी के साथ ऊबाल लें और ठंडा कर के दिन में दो बार पियें । लेकिन याद रखें ये कोई 5 minute me period kaise laye gharelu upay नही है इन उपायों को असर दिखाने में समय लगता है ।

mc jaldi aane ka upay है अदरक

अदरक भी समय से पूर्व महावारी लाने का उपाय है लेकिन इसके गलत तरीके या ज्यादा मात्रा में लेने से Side effects भी हो सकते हैं इसलिए होशियारी से इसका सेवन करें ।

अदरक को सीधे Use करने के बजाय आप अदरक को चाय में डाल कर ले सकते हैं ।

समय से पूर्व माहवारी के लिए घरेलू उपाय चुकंदर का जूस

चुकंदर का जूस अनेको Health benefits से भरपूर है खासकर की खून बढ़ाने में इसका काफी उपयोग किया जाता है ।

मगर इसके साथ ही चुकंदर के जूस से पीरियड्स लाने में भी मदद मिलती है । चुकंदर और गाजर के जूस को सामान मात्रा में मिलकर पीने से अनियमित पीरियड्स की समस्या जड़ से खत्म होने लगती है ।

period lane ka tarika है तिल

गर्भवती महिलाओं को अक्सर तिल के सेवन से बचने की सलाह दी जाती है क्योकि इनकी तासीर अत्यधिक गर्म होती है लेकिन वही अनियमित पीरियड्स की समस्या से जूझ रही महिलाओं को इससे काफी लाभ मिलता है ।

period lane ke gharelu upay in hindi है अनार का जूस

सेहत के लिए अत्यधिक फायदेमंद अनार का जूस आपको पीरियड्स से जुड़ी कई समस्याओं से निजात दिलवा सकता है ।

पिरियड्स की डेट से 15 दिन पहले तक अनार के जूस का सेवन करने से आपको आराम मिलना शुरू हो जाएगा

समय पर पीरियड लाने की आयुर्वेदिक दवा है खजूर

कई विटामिन्स से भरपूर खजूर सेहत के लिए वर्दान माना जाता है लेकिन पोष्टिक होने के अलावा इसके अनेकों Health benefits भी है ।

इसके अलावा सही तरीके से खजूर का सेवन पीरियड्स की टाइमिंग सुधारने में भी मदद करता है ।
इससे शरीर में गर्मी बढ़ती है और पीरियड्स भी जल्दी आते हैं ।

जल्दी पीरियड लाने का तरीका है मेडिटेशन

ये तरीका सुनने में आपको थोड़ा अटपटा लग रहा होगा लेकिन ये सच में काफी अच्छी तरह काम करता है ।

दरअसल मेडिटेशन तनाव को कम करता है जोकि हार्मोनल बदलाव कर के हाइपोथैलेमस और पिट्यूटरी ग्रंथि के कार्य को प्रभावित करता है ।

Leave a Comment