उल्टा बच्चा पैदा होने के फायदे : गर्भ में उल्टा बच्चा मां के लिए कितना घातक या फायदेमंद है ?

उल्टा बच्चा पैदा होने के फायदे :- आपने नोटिस किया होगा की जब भी हमारे आस – पास कोई बेतुकी बात बोलता है या अटपटी हरकत करता है तो लोग उस पर ये कह कर तंज कसते हैं की “तु क्या उल्टा पैदा हुआ था?”

No doubt उल्टा पैदा होने को एक कहावत की तरह यूज किया जाता है लेकिन क्या आप जानते हैं की बच्चे सच मेें उल्चे भी पैदा होते हैं ? जी हां दोस्तों माना जाता है की हमारे देश में जन्म लेने वाले 3% to 5% बच्चे उल्टा पैदा होते हैं, मेडिकल भाषा में इस स्थिति को ब्रीच प्रेगनेंसी (Breech Pregnancy) कहा जाता है।

अब यूं तो ब्रीच प्रेगनेंसी काफी कॉमन है लेकिन फिर भी लोगों के मन में इसको लेकर तरह – तरह के सवाल रहते हैं, जैसे – उल्टा पैदा होने वाला बच्चा मानसिक रूप से ढ़ीक होता है या नही ? या गर्भ में बच्चा उल्टा हो जाए तो क्या करें ?

दोस्तों आपको बता दें की प्रेगनेंसी के दौरान बच्चा, मां के गर्भ में उथल – पुथल करता रहता है जिसके कारण मां के पेट में उसकी पोजिशन भी चेंज होती रहती है ।

इसलिए कई बार वो उल्टा भी हो जाता है । अगर ऐसा डीलिवरी के समय हो तो काफी दिक्कत होती है क्योकि डीलिवरी के समय बच्चे की पॉजीशन को बदलना काफी मुश्किल होता है ।

यही वजह है की ब्रीच प्रेगनेंसी (Breech Pregnancy) को लेकर महिलाओं के मन में अजीब सी घबराहट रहती है क्योकि उनको समझ ही नही आता की इस सिच्यूएशन में कैसे रीएक्ट करना है और उनके मन में जो सवाल घूमते हैं वो अलग,

तो दोस्तों आज के इस लेख में हम आपको इसी विषय पर जानकारी देने वाले हैं और बताएगे की उल्टा बच्चा पैदा होने के फायदे ( ulta bacha paida hone ke fayde ) और नुकसान क्या – क्या है ।

एक्सपर्ट्स का कहना है की गर्भ में बच्चे के उल्टा होने की अवास्थाएं भी अलग – अलग होती हैं For example फ्रेंक या डबल फुटलिंग ब्रीच, सिंगल फुटिंग और कंप्लीट वगहरा – वगहरा

एक गौर करने वाली बात ये भी है की कुछ महिलाओं के पेट पर हल्का दबाव डाल कर बच्चे को सीधा किया जा सकता है लेकिन ये हर स्थिति में ठीक नही बैठता, यानि डॉक्टर अवस्था और महिला की स्थिति को देख कर ही ऐसा करता है बरना बच्चे की जान को खतरा भी हो सकता है ।

ऐसे हालत में डॉक्टर नॉर्मल डिलीवरी करने से बचते हैं और उसके बजाय ऑपरेशन से बच्चे को निकाला जाता है, तो अभी तक हमने आपको Breech Pregnancy की बेसिक जानकारी दी अब अगले भाग में हम आपको बताएंगे की ब्रीच बेबी होता क्यो है ?

बच्चा उल्टा पैदा होने के कारण – ulta bacha paida hone ke karan

उल्टा बच्चा पैदा होने के फायदे
उल्टा बच्चा पैदा होने के फायदे

डॉक्टरों का कहना है की ब्रीच बेवी पुरी तरह सेहतमंद पैदा होते हैं मगर कभी – कभी ये भी देखा गया है की बर्थ डिफेक्ट से उनकी अवस्था में चेज आ जाता है और वो उल्टे हो जाते हैं इसके अलावा pregnancy के 8वे महीने में बच्चे की हलचल के लिए ज्यादा जगह नही बचती जिसकी वजह से भी उनकी पोजिशन उल्टी हो जाती है ।

Read more 👉 बिना प्रेगनेंसी के अनवांटेड किट खाने से क्या होता है

खैर इसके अलावा भी कुछ कारण है जिनकी वजह से ब्रीच बेवी पैदा हो सकता है जो कुछ इस प्रकार हैं –

1. बच्चे का वजन नॉर्मल वेट से कम होना,
2. मां के गर्भ में जुडवा बच्चे हों,
3. समय से पहले डीलिवरी होने पर,
4. कभी – कभी बेटी होने पर भी ऐसा हो सकता है
5. इससे पहले भी आप प्रेगनेंट रह चुकी हों,
6. इसके अलावा अम्बिलिकल कॉर्ड छोटी होने पर भी ये दिक्कत हो सकती है ।

तो अगर किसी महिला को Breech Pregnancy है तो डॉक्टर संभावित खतरे से बचने के लिए ईसीवी करवा सकते हैं, अगर कोई महिला ईसीवी करवाने में सहज नही है तो डॉक्टर फिर सी सेक्शन कर सकते हैं, आइये अब आपको अगले भाग में ईसीवी के बारे में बताते हैं –

ईसीवी प्रक्रिया क्या है ? (What Is ECV in hindi )

ईसीवी एक मेडिकल प्रक्रिया है जिसमें डॉक्टर पीडित महिला के पेट पर हल्का दबाब डाल कर बच्चे की पोजिशन को ढ़ीक करता है ताकि महिला की नॉर्मल डीलिवरी की जा सके,

मगर काफी सारी महिलाएं ECV करवाने से कतराती हैं क्योकि इस प्रोसेस में उन्हे काफी दर्द का सामना करना पडता है और इसके सक्सेसफुल होने के चांस भी लगभग 55% ही हैं ।

इसके अलावा जिन लेडीस की First pregnancy नही है, गर्भ में जुठवा बच्चे हैं या फ्लुइड कम है तो डॉक्टर भी इस इस प्रक्रिया से बचने की सलाह देता है ।

एक ध्यान रखने वाली बात ये भी है की जिन औरतों को गर्भावस्था के 9 महीने पुरे हो गए हैं केवल उन्ही पर ईसीवी प्रक्रिया की जाती है ताकि कोई दिक्कत हो तो उनकी तुरंत delivery करा दी जाए ।

मगर दिक्कत ये है की आखिर पता कैसे किया जाए की आपको ब्रीच pregnancy है ? तो इसको आप कुछ लक्षणों से पता कर सकते हैं जिनको हम अगले भाग में बता रहे हैं ।

इसे भी पढ़े :>अगर लड़की गलती से प्रेगनेंट हो जाए तो क्या करें – आसान समाधान agar galti se pregnant ho jaye to kya kare 

बच्चा उल्टा (ब्रीच बेबी) होने के लक्षण –

Breech Pregnancy पता करने का सीधा तरीका नही है लेकिन ऐसा कहा जाता है की अगर आपको बच्चे की लाते निचले हिस्से में महसूस हो रही है तो आपको Breech Pregnancy हो सकती है, इसके अलावा अल्ट्रा साउंड भी किया जा सकता है गौर करने वाली बात ये भी है की डॉक्टर 3 महीने से पहले नही बता सकता की आपको Breech Pregnancy है या नही ।

So आपको इस तरह पता चल जाएगा की आपके गर्भ में उल्टा बच्चा है या नही ? लेकिन क्या आपको पता है की उल्टा बच्चा पैदा होने के फायदे – Ulta Bachcha Hone Ke Fayde ? आइये अगले भाग में इसके बारे में जानते हैं ।

Read more :> विस्तार से जानिये प्रेगनेंसी में पेट कब निकलता है और पेट कितना बडा एंव चौड़ा होना चाहिये

उल्टा बच्चा पैदा होने के फायदे – Ulta Bachcha Hone Ke Fayde

इस सवाल का जबाव तलाशने के लिए हमने इन्टरनेट पर काफी रीसर्च की और कई एक्सपर्ट्स से भी मशवरा लिया लेकिन सभी ने यही कहा की उल्टा बच्चा पैदा होने के फायदे नही है, मेडिकली और साइंटिफिकली हमें उल्टा बच्चा होने के फायदे का कोई प्रमाण नही मिला ।

इसके अलावा कुछ लोग ये बात कहावत के रूप में भी साबित करने की कोशिश करते हैं की उल्टा पैदा होने वाले बच्चे मानसिक रूप के कमजोर होते हैं लेकिन हमें इसके भी कोई प्रमाण नही मिले हैं, उल्टा पैदा होने वाले बच्चे भी नॉर्मल बच्चों की तरह सामान्य होते हैं लेकिन उनकी डीलिवरी के टाइम थोडी दिक्कत जरूर होती है ।

दरअसल मां के गर्भ में बच्चा अपनी पोजिशन बदलता रहता है और लात भी मारता है लेकिन जैसे – जैसे समय बीतता है और Pregnancy का 9वा महीना शुरू हो जाता है तो बच्चा ज्यादा हलचल नही कर पाता क्योकि उसका शरीर जितना बढ़ा होना होता है वो बड चुका होता है ऐसे में उसकी पोजिशन फिक्स हो जाती है ऐसे में फिर डॉक्टरों को अपने तरीके से डिलीवरी करनी पडती है ।

खैर घबराने वाली बात नही है क्योकि ब्रीच प्रेगनेंसी बहुत ही कम केसेस में होती है अमूमन लेडीस की नॉर्मल डीलिवरी होती है जिसमें सिर नीचे की ओर और पैर ऊपर की तरफ होते हैं मगर ब्रीच डीलिवरी में इसका बिल्कुल उल्टा होता है और पैर नीचे की तरफ और सिर ऊपर की तरफ होता है ।

ज्यादातर लडकियों को सोनोग्राफी या ultrasound के बाद ही पता चलता है की उनको ब्रीच प्रेगनेंसी है, Breech Pregnancy कन्फर्म होने के बाद डॉक्टर सिजेरियन डिलीवरी करवा सकते हैं ।

उल्टा बच्चा होने के नुकसान – Ulta baccha hone ke nuksan

First of all आपको बिल्कुल भी घबराना नही है क्योकि ऐसा बहुत कम केसेस में होता है मात्र 3% महिलाओं को उल्टा बच्चा पैदा होता है,

वैसे देखा जाए तो उल्टा बच्चा पैदा होने का कोई नुकसान नही है लेकिन हां, कुछ दिक्कत और समस्याए जरूर हो सकती हैं जो कुछ इस प्रकार हैं ।

1. बच्चे को ऑक्सीजन कम मिलने का खतरा रहता है
2. सिजेरियन डिलीवरी करवानी पड सकती है

इसके अलावा भी दूसरी दिक्कतें हो सकती हैं इसलिए किसी प्रशिक्षित गयनोक्लौजिस्ट से ही प्रसव करवाएं ।

Read also :> अल्ट्रासाउंड में लड़के की क्या पहचान है ? जानें अल्ट्रासाउंड में लड़का होने के लक्षण, How to know boy or girl by ultrasound report in Hindi

सारांश

तो दोस्तों आज हमने आपको यहां उल्टा बच्चा पैदा होने के फायदे के बारे में बताया और इससे जुडी दूसरी जानकारी भी दी क्योकि इंटरनेट पर इस विषय से रीलेटेड काफी कम जानकारी है इसलिए महिलाएं अक्सर कन्फ्यूज रहती हैं मगर यहां हमने आपको पुरी और सही जानकारी देने का प्रयास किया, अगर आप आगे भी ऐसी ही पोस्ट पढ़ते रहना चहाते हैं तो आज ही हमारे टेलिग्राम ग्रुप को जॉइन करिये ।

Leave a Comment